Kuldevi

श्री आसावरी माताजी

श्री आसावरी माताजी माहेश्वरी जाति की आसावा खाँप की कुलदेवी हैं। स्थानीय निवासी भी इनके प्रति आगाध श्रद्धा रखते हैं।

श्री आसावरी माताजी का मंदिर राजस्थान के नागौर जिले में ग्राम शंखवास से 10 कि.मी. दूर स्थित आसावरी ग्राम में है। मान्यताओं के अनुसार माताजी की प्रतिमा अत्यन्त प्राचीन है। वैसे इसके बारे में विस्तृत जानकारी नहीं है।


पूजन /उत्सव

मन्दिर में नित्य तीन समय पूजन होती है। श्रद्धालु अपनी परम्परानुसार माताजी को भोग लगाते हैं। नवरात्रि के दौरान यहाँ विशिष्ट आयोजन होते हैं।


कहाँ ठहरें

छोटा स्थान होने के बावजूद सर्व सुविधायुक्त माहेश्वरी भवन एवं कलंत्री भवन दो स्थानों व इसके अतिरिक्त स्थानीय निवासियों के लम्बे-चौड़े आवास भी हैं। दोनों भवनों में वर्तमान में निजी सेकण्डरी स्तरीय विद्यालय संचालित हो रहे हैं।


प्रमुख शहरों से दूरी

मारवाड़ मूण्डवा- 22 कि.मी.
मेड़ता सिटी- 40 कि.मी.
नागौर- 40 कि.मी.
खींमसर- 40 कि.मी.
जोधपुर- 105 कि.मी.
अजमेर- 155 कि.मी.
जयपुर- 360 कि.मी.


कैसे पहुंचें

अजमेर से मेड़ता रोड़ (75 कि.मी.) आकर सीधे शंखवास (40 कि.मी.) सड़क मार्ग से भी जाया जा सकता है।


Via
Sri Maheshwari Times
Tags

Related Articles

Back to top button
Close